5 DISTRACTIONS THAT STOP YOU FROM ACHIEVING YOUR GOALS

Written by Sneh Desai on May 19, 2018

5 Distractions that stop you from acheiving your goals




Goals are short-term yet time-bound, achievable tasks that help you add onto the bigger picture. For example – exercising every day in order to lose 7 kgs by the end of three months, or completing your homework every day in order to be well-prepared before examination. Of course these are just vague ideas of how goals work, while in reality they are more specific and measurable in nature. But the point here is to give you an idea of these “goals” so that when you sit down with these tasks you are not distracted by some seemingly trivial things, like:-

1. Television –

Yes it is 2018 and yet still the television is the idiot box (if you are using it non-productively) and for good reason. It makes you feel like one! It is such a common temptation. To see one episode, one movie for a few minutes, one hour, many hours – and just like that not only is time wasted, your dreams are also sacrificed. In the last 5 years, I have hardly watched TV for more than a few hours. I didn’t have TV in my bedroom for many years to make sure I don’t get attracted to it; and now when I have it, I have barely used it. Get off these temptations to watch TV until you achieve your goals and finish them in your desired fashion – without compromise!

2. Smart Phone –

Trust me when I say this, but smart phones are not that smart! There are so many distractions that are within the confines of this small device (the SOCIAL MEDIA bandwagon), that it can take up all of your time and energy, draining you from your willingness to go after your tasks! You know those “Danger-440 volts” signs that you spot so often? They should be actually employed upon these smart phones. Learn to actually learn from your smart phone by making better use of it if you want to turn this distraction into a tool of productivity! Most youngsters that come to my signature event ‘Change Your Life’ have had a breakthrough when they decide to get rid of their addictive habit of using social media.

3. Wrong People –

No this point is not overrated! If you really sit down and make a list of people that you have surrounded yourself with (and moreover, overcompensated for) you shall be amazed at the amount of time that you have been wasting. Wrong people are not just wrong for the short-term, but in the long run you shall be completely unfulfilled by certain relationships which yield into nothing more than “time pass”. Learn to recognize these people and limit the amount of time that you spend on them (and then take note of the time they spend on you when you are in trouble) and decide for yourself. What is more important? Your goals, or them? The choice is yours!

4. “Hanging Out” –

This term has ruined so many dreams! Stop hanging out – it has no definitive outcome. It is simply about carelessly wasting time just to make others believe that you have a life of your own! Life is actually made by sacrifices by endlessly working on your dreams and goals, by achieving your objectives on a daily basis! Don’t get me wrong, catching up with friends after a long time is precious and much-needed, but don’t do it every day! It also takes away your worth from your friendships! Value relationships and not derail them by merely “hanging out”!

5. Over-thinking –

Stop thinking and start doing! Most of us distract ourselves by constantly thinking! Let’s stop doing that. If you want tangible results, get up and go at your goals instead of thinking incessantly. And the problem is not merely thinking, it is over-thinking and that too negatively. Most of us are constantly focused on the issues that keep us from achieving our goals. Instead you could have worked at them!! Next time whenever you feel bogged down by such deep thoughts, just get up and get busy! It is better to complete chores or even mundane routine tasks than to sit back and let toxic thoughts rule your decisions!

If you like these simple tips, check out my other books or products to help you reach your goals faster.



5 विकर्षण जो आपको अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने से रोके


लक्ष्य अल्पकालिक होते हैं लेकिन फिर भी वे समयबद्ध, प्राप्त करने योग्य कार्य हैं जो आपको बड़ी तस्वीर से जोड़ने में मदद करते हैं। उदाहरण के लिए – तीन महीने के अंत तक 7 किलोग्राम वजन कम करने के लिए हर दिन व्यायाम करना या परीक्षा से पहले अच्छी तरह से तैयार होने के लिए हर दिन अपना होमवर्क पूरा करना। बेशक ये लक्ष्य कैसे पाए जाते हैं इस पर केवल अस्पष्ट विचार हैं, जबकि वास्तव में वे अधिक विशिष्ट और नापने योग्य होते हैं। लेकिन यहां मुद्दा आपको इन “लक्ष्यों” का विचार देना है ताकि जब भी आप इन कार्यों के साथ बैठ जाएं तो आप कुछ मामूली चीजों से विचलित ना हो, जैसे: –

1. टेलीविजन –

जी हां, यह 2018 है और अभी भी टेलीविजन ‘इडियट – बॉक्स’ है (यदि आप इसे गैर-उत्पादक रूप से उपयोग कर रहे हैं) और ऐसा कहने के पीछे सही कारण भी है। यह आपको वैसा महसूस कराता है! यह एक आम प्रलोभन है। एक एपिसोड देखने के लिए, कुछ मिनटों के लिए एक फिल्म देखने, एक घंटा, कई घंटे – और इसी तरह न केवल समय बर्बाद हो जाता है बल्कि आपके सपनों की भी बलि चढ़ाई जाती है। पिछले 5 वर्षों में, मैंने कुछ घंटों से अधिक समय तक टीवी नहीं देखा है। मेरे बेडरूम में टीवी नहीं था यह सुनिश्चित करने के लिए कि मैं इससे आकर्षित नहीं होता था ; और अब जब वह मेरे पास है, मैंने मुश्किल से इसका उपयोग किया है। टीवी देखने के इस प्रलोभन को दूर करें जब तक कि आप अपने लक्ष्यों को प्राप्त न करें और उन्हें वांछित तरीके से समाप्त न करें – समझौता किए बिना!

2. स्मार्ट फोन –

जब मैं यह कहता हूं तो मेरा विश्वास कीजिए, लेकिन स्मार्ट फ़ोन स्मार्ट नहीं हैं! इस छोटे से यन्त्र की सीमाओं के भीतर इतने सारे विकर्षण हैं (सोशल मीडिया का फैशन) कि यह आपका सारा समय और ऊर्जा को निचोड़ सकता है, जिससे आप अपने कार्यों के पीछे जाने की इच्छा से दूर हो सकते हैं! आप उन “खतरा – 440 वोल्ट” संकेतों को जानते हैं जो आपको अक्सर नजर आते हैं? उन्हें वास्तव में इन स्मार्ट फोन पर लगा देना चाहिए। यदि आप इस विकृति को उत्पादकता के उपकरण में बदलना चाहते हैं तो इसका बेहतर उपयोग करके अपने स्मार्ट फोन से वास्तव में सीखें! मेरे अपने विशेष कार्यक्रम ‘चेंज योर लाइफ’ में आने वाले अधिकांश युवाओं ने सोशल मीडिया का उपयोग करने की अपनी नशे की लत से छुटकारा पाने का फैसला किया है।

3. गलत लोग –

नहीं, इस तथ्य को वास्तविकता से अधिक नहीं आंका गया है! यदि आप वास्तव में बैठकर उन लोगों की सूची बनाते हैं जिन्हें आप अपने साथ घेरे हुए हैं (और इसके लिए, अधिक नुकसान कर ली है) तो आप बर्बाद किया गया वह समय देखकर आश्चर्यचकित होंगे। गलत लोग सिर्फ थोड़े समय के लिए गलत नहीं है, लंबे समय में पता चलेगा कि कुछ संबंध पूरी तरह से अपूर्ण रहें जो “टाइम पास” से अधिक कुछ नहीं होते हैं। इन लोगों को पहचानना सीखें और समय की उस मात्रा को सीमित करें जो आप उन के साथ बिताते हैं (और फिर जब आप परेशान होते हैं तो वे आप के साथ कितना समय बिताते है इस पर ध्यान दें) और खुद फैसला करें. क्या ज्यादा महत्वपूर्ण है? आपके लक्ष्य या वे? चुनना आपको है!

4. “बाहर यूँ ही समय बिताना” –

इस परिभाषा ने बहुत सारे सपने बर्बाद कर दिए हैं! बाहर यूँ ही समय बिताना बंद कीजिए – इसका कोई निश्चित परिणाम नहीं है। यह केवल दूसरों को यह विश्वास दिलाने के लिए लापरवाही से समय बर्बाद करने के बराबर है कि आपके पास अपना जीवन है! जीवन को वास्तव में अपने उद्देश्यों को हर दिन प्राप्त करके, अपने सपनों और लक्ष्यों पर अंतहीन रूप से काम करके बलिदान द्वारा बनाया जाता है! मुझे गलत मत समझो, लंबे समय बाद दोस्तों के साथ समय बिताना मूल्यवान और बहुत जरूरी है, लेकिन हर दिन ऐसा मत कीजिए! यह आपकी दोस्ती से आपका मूल्य भी ले लेता है! संबंधों की कीमत कीजिए और उन्हें “यूँ ही समय बिताकर” मत गवांए !

5. अति सोच –

सोचना बंद कीजिए और करना शुरू कीजिए! हममें से ज्यादातर लोग लगातार सोचकर खुद को विचलित करते हैं! चलो, ऐसा करना बंद करते है. यदि आप वास्तविक परिणाम चाहते हैं, तो उठिए और निरंतर सोचने के बजाय अपने लक्ष्यों को प्राप्त कीजिए । समस्या केवल ‘सोचना’ नहीं है बल्कि ‘अधिक सोचना’ है और वह भी ‘नकारात्मक सोचना’ है। हम में से अधिकांश लोग लगातार उन मुद्दों पर ध्यान देते हैं जो हमें अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने से रोकते हैं। इसके बजाय आप उन पर काम कर सकते थे !! अगली बार जब कभी आप इस तरह के गहरे विचारों से घबराएंगे, बस उठो और व्यस्त हो जाइए ! चुपचाप बैठने और नकारात्मक विचारों को अपने फैसलों पर शासन करने के बजाय छोटा-मोटा काम पूरा करने या रोज के नियमित कार्यों को पूरा करना बेहतर होता है!

यदि आपको यह सरल युक्तियों पसंद है, तो आप अपने लक्ष्यों तक पहुंचने में मदद के लिए मेरी अन्य पुस्तकें या उत्पाद देखें।

Share