7 SIMPLE EXERCISES TO REDUCE YOUR STRESS

Written by Sneh Desai on September 8, 2018

REDUSE TRESS BLOG



Today’s main agenda is focussed on tackling stress. What do you mean by stress? There are n number of complicated definitions about stress, but if you ask me I can simplify the same for you like this – Anything that is not focussed in the NOW is stress. This means that if you are living in your past and letting your present pass you by or if you are constantly worried about what the future holds for you then we can say that you are stressed. Now the rest is upon you, by this simple explanation you are supposed to examine your stress levels or assess if you are a “stress patient”.

Unfortunately, our natural response to understanding stress leads to more stress. This is why today’s post is dedicated to helping you relieve yourself from this burdened lifestyle. Here are some very basic and simple exercises and practical ideas (most of which can be done anywhere at any given time) to help you feel more positively neutral about yourself:-

1. Stretch –

It is a great warm-up routine as well but more importantly, stretching really helps in loosening any tight muscles in your body. This helps in relieving any tension that you might be feeling. The more you focus on your flexibility the better.

  • Start with basic shoulder, head, ankle and elbow rotation both clock as well as anti-clockwise.
  • Forward stretch: Stand with your feet hip-width apart and bend down to lower your head towards the floor, with your hands clasping your ankles.
  • Butterfly Stretch: Sit down with the soles of your feet together & knees bent to the sides. Simply bend over to feel the stretch in your thighs by pressing your knees down.
  • Back-bending stretch: Stand tall and bend backward by placing your hands at your hips.
  • Shoulder Stretch: To curb poor posture clasp your hands behind your lower back and now raise them by squeezing your shoulder blades together.
  • After stretching for a good 5 to 8 minutes you shall feel a new sense of purpose and a whole lot lighter (even emotionally).

2. Dynamic Yoga –

For those who do not get the time to do exercises in a full-fledged manner, dynamic yoga is a technique that I have personally developed in order to make sure that western science and Indian shastras are blended perfectly in order to train your sense organs and your mind to work efficiently and happily. It is a very interactive and interpersonal method. No matter how busy you are, I am sure you can find out the time to incorporate these easy-going and casual yet effective exercises curated especially for today’s hectic lifestyle. You can check out the YouTube video at: www.youtube.com/snehdesai, and also connect to it through my official App and purchase its DVD at: SnehWorld Store.

3. Five Things –

Once anxiety starts to kick in start taking mental notes. Change your mind frequency immediately by focussing on five things that make your surroundings worth it. What is the thing that comforts you about your environment? Who are the people around you who make you feel better even during such stressful times? What are the three things that you are thankful for? What are the best qualities of the source of your stress (could be the virtues of a person or of a place/situation)? Slowly bring your attention to how you can create calm amidst a storm.

4. Walk –

Easiest and the most doable option. Also viable and healthy. Whenever you feel like life is giving you lemons, go out for a short stroll or a longer walk whichever it is that you can allow yourself. The moment you move around anywhere your brain shall start to function differently observing and absorbing the little details of wherever you plan to walk. Slowly you shall feel calmer and more ready for the changing circumstances around you.

5. Slow Down –

As soon as you identify your stress try and physically slow down the pace of your activities. This shall help you to not react impulsively and will also help your emotional state to slow down eventually. Eat slower, talk slower (or in fact don’t talk at all), breathe slower (& deeper)! Just don’t let your body feel the immediate effects of your mental upheaval. Or as soon as you think your body is catching up, slow down.

Laugh –

When nothing works, laughter is genuinely the best medicine. Laughing is such a great source of forgetting about any stress or anxiety-creating elements of your life. Be unafraid to laugh at yourself, your circumstances or just try to reach out to other people to reminisce a funny incident from your past.

Meditation –

Meditation is an old age method to manage stress and anxiety levels. There are many different methods through which you can meditate and feel better. From gratitude meditation to weight loss meditation, the world out there is highly creative as long as meditation techniques and timings are concerned. But why go outside and look through a plethora of YouTube videos when I have designed them very intricately keeping in mind the specifics of your problems. All you need to do again is download my App and you are sorted.

These are just some quick tips on managing stress but how about not having any stress at all in the first place? If you wish to learn the same, come to my 4-days Camp ‘Ultimate Life’ where I spend one day talking about stress and emotional well-being.



आपका तनाव कम करने के 7 सरल व्यायाम

आज का मुख्य एजेंडा तनाव से निपटने पर केंद्रित है। तनाव से आपका क्या मतलब है? तनाव की जटिल परिभाषाएं हैं, लेकिन यदि आप मुझसे पूछें तो मैं इसे आपके लिए सरल बना सकता हूं – जो कुछ भी अब में केंद्रित नहीं है वह तनाव है। इसका मतलब यह है कि यदि आप अपने अतीत में रह रहे हैं और अपने वर्तमान को नजरअंदाज करते हैं या यदि आप लगातार भविष्य के बारे में चिंतित हैं तो हम कह सकते हैं कि आप तनावग्रस्त हैं। अब बाकी आप पर हैं, इस सरल स्पष्टीकरण से आपको अपने तनाव के स्तर की जांच या आकलन करना चाहिए और जानना चाहिए की क्या आप “तनाव के रोगी” हैं?

दुर्भाग्य से तनाव को समझने के लिए दी गयी हमारी प्राकृतिक प्रतिक्रिया हमें अधिक तनाव की ओर ले जाती है। यही कारण है कि आज की यह पोस्ट आपको इस बोझील जीवनशैली से छुटकारा पाने में मदद करने के लिए समर्पित है। यहां कुछ बहुत ही बुनियादी और सरल व्यायाम और व्यावहारिक विचार हैं (जिनमें से अधिकतर किसी भी समय कहीं भी किया जा सकता है) ताकि आप अपने बारे में अधिक सकारात्मक तटस्थ महसूस कर सकें: –

1. खिंचिये (स्ट्रेच कीजिये) –

व्यायाम शुरू करने के पहले किये जानेवाली यह एक बढ़िया वार्म-अप दिनचर्या भी है। लेकिन अधिक महत्वपूर्ण बात यह है कि स्ट्रेच करने से वास्तव में आपके शरीर में किसी भी तंग मांसपेशियों को ढीला करने में मदद मिलती है। यह उस तनाव को दूर करने में मदद करता है जिसे आप महसूस कर रहे हैं। जितना अधिक आप अपने लचीलेपन पर ध्यान केंद्रित करेंगे उतना ही बेहतर होगा।

  • बुनियादी रूप में कंधे, सिर, टखने और कोहनी को घड़ी की सुई की दिशा में गोल घुमाएं और फिर उलटे दिशा मे भी करें।
  • आगे की ओर खिंचाव: अपने पैरों को कूल्हों की चौड़ाई जितना दूर रखते हुए खड़े हो जाइये और अपने सिर को फर्श की तरफ निचे ले जाएं। अपने हाथों से अपने टखने को दबाकर रखें।
  • तितली जैसा खिंचाव: निचे बैठ जाइये। अपने पैरों के तलवों को एक साथ जोड़े रखें और घुटनों को बाजु में झुकाएं। अपनी जांघों में खिंचाव महसूस करने के लिए घुटनों को दबाते हुए झुक जाइये।
  • पीठ को झुकानेवाला खिंचाव: अपने हाथों को अपने कूल्हों पर रखकर खड़े हो जाइये और पीछे की ओर मोड़ें।
  • कंधों का खिंचाव: खराब मुद्रा को रोकने के लिए पीठ के निचले हिस्से के पीछे अपने हाथों को पकड़ें और फिर अपने कंधे की हड्डी को दबाते हुए हाथों को ऊपर उठाएं।

5 से 8 मिनट खींचने के बाद आपको एक नई भावना से भरपूर और पूरी तरह से हल्का (भावनात्मक रूप से भी) महसूस होगा।

2. डायनामिक योग (गतिशील योग) –

उन लोगों के लिए जिन्हें संपूर्ण व्यायाम करने का समय नहीं मिलता है, डायनामिक योग एक ऐसी तकनीक है जिसे मैंने व्यक्तिगत रूप से विकसित किया है। उससे यह सुनिश्चित किया जा सकता है कि पश्चिमी विज्ञान और भारतीय शास्त्र पूरी तरह से घुलमिल जाएं ताकि अपने दिमाग और अंगों को कुशलतापूर्वक और खुशी से काम करने के लिए प्रशिक्षित किया जा सके। यह बहुत ही संवादात्मक और एक ऐसी विधि है जिसमे अनेक लोग हिस्सा लेते हैं। आप कितने ही व्यस्त क्यों ना हो, मुझे यकीन है कि आज की व्यस्त जीवनशैली के लिए विशेष रूप से बनाये गए इन आसान और अनौपचारिक लेकिन प्रभावी व्यायामों को शामिल करने के लिए आप समय निकाल सकते हैं। आप स्नेह देसाई यूट्यूब चॅनेल पर वीडियो देख सकते हैं और इसे मेरे आधिकारिक ऐप के माध्यम से भी कनेक्ट कर सकते हैं। स्नेहवोर्ल्ड स्टोर पर उसकी डीवीडी भी खरीद सकते हैं।

3. पांच चीजें –

जैसे ही चिंता शुरू हो जाती है आप मानसिक नोट्स लेना शुरू कर दीजिये। जो आपके आसपास के वातावरण को लायक बनाता है उन पांच चीजों पर ध्यान केंद्रित करके तुरंत अपने दिमागी स्थिति को बदलें। वह कौनसी बात है जो आपको अपने वातावरण के बारे में धीरज देती है? आपके आस-पास के लोग कौन हैं जो आपको ऐसे तनावपूर्ण समय के दौरान भी बेहतर महसूस कराते हैं? तीन चीजें क्या हैं जिनके लिए आप आभारी हैं? आपके तनाव के स्रोत के सर्वोत्तम गुण क्या हैं (किसी व्यक्ति या स्थान / स्थिति का गुण हो सकता है)? धीरे-धीरे अपना ध्यान इस ओर दें जिससे कि आप तूफान के बीच भी शांत कैसे बने रह सकते हैं।

4. चलिये –

चलना यह सबसे आसान और सबसे अधिक करने योग्य विकल्प है। इसके अलावा व्यवहार्य और स्वस्थ भी है। जब भी आपको लगे की जीवन से आपको अपेक्षा से बहुत काम मिल रहा है, तब थोड़ा सा टहलने के लिए बाहर निकलें या लंबे समय तक चलें, जैसा भी आप चाहें। जिस क्षण आप कहीं भी घूमते हैं, आपका दिमाग आजुबाजु की छोटी-छोटी बातों को देखना और महसूस करना शुरू कर देता है। इससे धीरे-धीरे आप अपने चारों ओर बदलती परिस्थितियों का सामना करने के लिए शांत और अधिक तैयार महसूस करेंगे।

5. गति कम कीजिये –

जैसे ही आप अपने तनाव की पहचान करते हैं तब आप शारीरिक रूप से अपनी गतिविधियों की गति को धीमा कर देने की कोशिश कीजिये। यह आपको आवेगपूर्ण प्रतिक्रिया देने से रोकने में मदद करेगा और अंततः धीमे होने के लिए आपकी भावनात्मक स्थिति में भी मदद करेगा। धीरे-धीरे खाएं, धीरे-धीरे बात करें (या सच कहूं तो बिल्कुल बात न करें), धीरे-धीरे सांस लें (और गहराई से ले)! बस शरीर को अपने मानसिक उथल-पुथल के तत्काल प्रभावों को महसूस न होने दे। या जैसे ही आपको लगता है कि आपका शरीर प्रभावित हो रहा है, तब आप अपनी गति कम कीजिये।

6. हंसिये –

जब कुछ भी इलाज काम नहीं करता है तब हंसी वास्तव में सबसे अच्छी दवा है। हंसना आपके जीवन के किसी भी तनाव या चिंता-निर्माण करनेवाले तत्वों को भूलने का बहुत बड़ा स्रोत है। अपने आप पर, अपनी परिस्थितियों पर हंसने से ना डरें। या अपने अतीत की एक मजेदार घटना को याद दिलाने के लिए दूसरों तक पहुंचने का प्रयास करें।

7. ध्यान –

तनाव और चिंता के स्तर को कम करने का एक बढ़िया तरीका है ध्यान करना। ध्यान की कई अलग-अलग विधियां हैं जिससे आप को बेहतर महसूस हो सकता हैं। जहां तक ध्यान तकनीक और समय का संबंध है, कृतज्ञता ध्यान से वजन घटाने के ध्यान तक पाए जाते है। इस मामले में दुनिया बहुत रचनात्मक है। लेकिन फिर बाहर क्यों जाएं और बड़ी संख्या में यूट्यूब क्यों देखें जब आपकी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए मैंने उन्हें खास आपके लिए बनाये है! आपको बस मेरा ऐप फिर से डाउनलोड करने की ज़रूरत है। और आपको तुरंत अलग कर दिया जायेगा।

तनाव के प्रबंधन पर ये कुछ तुरंत किये जानेवाले सुझाव हैं। लेकिन यदि आपको कोई तनाव ही ना हो तो? यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो मेरे 4-दिनों के शिविर ‘अल्टीमेट लाइफ’ (Ultimate Life) में आएं जहां मैं पूरा एक दिन तनाव और भावनात्मक कल्याण के बारे में बात करता हूं।

Share