MAKE 2018 – THE YEAR OF SAVING MONEY

Written by Sneh Desai on January 19, 2018

2018 Year of Saving Money



With the New Year up and about, resolutions are being made in abundance too. Resolutions are a pathway to give us a new incentive to work harder towards our goals, ambitions and age-old habits. But one very fundamental thing that we tend not to sometimes pay attention to is the one thing which all of us complain about the most – money. So even if we cannot keep up with other promises, let us resolve to make 2018 the year of saving money!

1. Track Your Expenses:

The first step to saving more is to know the areas where most of your income is spent. It is a great way to get started and get a reality check at the same time. And please don’t be shy to take note of every little expense including transportation, groceries, take-out meals, online shopping etc.; most of our funds are generally trapped in these little things and since they seem inexpensive at face-value they are a major disadvantage to our savings.

2. Make A Plan:

If saving does not come naturally to you, planning ahead is extremely crucial. Plans make sure we adhere to our goals and also remind us of how important it is to achieve them. Make a plan – in other terms, plan a budget. Once you have a rough idea about what you spend in a month, try and categorize your expenses and then work a budget you should allow yourself to allocate to each of these areas. Don’t forget to make room for contingencies for expenses that are not incurred on a monthly basis.

3. Cut Back:

Now that you have your expenses sorted into categories and a budget to live by, the next thing is as simple as the previous two. Cut Back. For example, you can cut down on the money you are spending on groceries by chucking items that are unhealthy – that way you can inculcate two good habits at the “expense” of one. The other way to manifest savings is to determine the amount of money, as a percentage of your salary, which you would like to retain every month. It could be 10%, 20% or something as small as just a 5% retention.

4. Choose A Purpose:

Saving does not have to be deliberate. It can be highly motivational when you give your savings a purpose. So find one – the car you want to buy, the new smartphone you want to purchase, a vacation, for future emergencies, a hassle-free retirement, down-payment for a new home. Anything. The bigger the purpose, the bigger the saving – although patience is key!

5. Prioritize:

More often than not we have many desires we want to fulfill as soon as possible, i.e., we have multiple reasons to save up. Don’t worry, it is a great thing – it means that you’re highly motivated to get to the life you love. But you should be practical in achieving these desires. Hence, prioritize. Prioritize your desires into long-term and short-term goals, and make sure your long-term goals do not suffer under any circumstances. However, you should make an exception and certain sacrifices for your small-term goals.

6. Invest:

Pick the right tools to invest your cut-back money. Take the help of experts and really figure out what should be the best way to invest for you. There are so many things out there right from Fixed Deposits (FDs) to Mutual Funds. Figure out the level of risk you want to take and decide accordingly. However, take the right help instead of blindly listening to others. No matter where and what you invest in, make the use of Netbanking services to automate your savings such that even if you are forgetful, just like your expenses, money shall be automatically transferred. This also ensures in reducing your temptation of using or rather misusing your savings.

Some good news for you! If you wish to learn the full-fledged proven method of saving your money the best way and to ultimately be financially free, I have designed ‘Money & Success Online Course’ which you can learn with your family members. This course will surprise you with some amazing and simple principles by which people earn billions.
Resolve to make 2018 a year not financially regretful. Godspeed!


२०१८ को पैसों की बचत का वर्ष बनाए

नए साल की शुरुआत होते ही, संकल्प भी बड़े पयमाने में किये जा रहे हैं| संकल्प हमें अपने लक्ष्य, अपनी आकांक्षाओं और वर्षों पुरानी आदतों की प्राप्ति के लिए जरूरी कठोर परिश्रम के मार्ग पर चलने का प्रलोभन है| लेकिन एक बड़ी ही मूलभूत बात जिसकी ओर कभी कभी ध्यान ना देने की हमारी आदत है, परन्तु उसकी शिकायत ज़रूर करते रहते हैं, वह है – पैसा| तो हम बाकि सरे वादें पूरे करें ना करें, आओ निश्चय करें की २०१८ को पैसे बचाने का वर्ष जरुर बनाएँगे|

१. अपने खर्च का हिसाब रखें:

बचत की ओर का पहेला कदम मतलब आपको मालूम होना चाहिए की आपकी कमाई का ज्यादा हिस्सा कहाँ खर्च होता है| यह बचत की शुरुआत का सबसे बेहतर तरीका भी है और साथ ही वास्तविकता की जाँच भी हो जाती है| और छोटे से छोटे खर्च को लिख के रखने से शर्माओ मत; जैसे परिवहन का खर्च, किराना, बहार के खाने का खर्च, ऑनलाइन खरीद इत्यादी, हमारे ज्यादातर पैसे ऐसी छोटी बातों में ही खर्च होते हैं, और चूँकि इन सब का अंकित मूल्य बड़ा ही सस्ता लगता है, फिर भी हमारी बचत को यही सबसे बड़ा नुक़सान करते हैं|

२. आयोजन करें:

अगर बचत करना आपको स्वाभाविक तरह से नहीं आता, तो पहले से आयोजन करना बहुत महत्वपूर्ण है| आयोजन निश्चित करते हैं कि हम अपने लक्ष्य पर अटल रहें और यह भी याद दिलाते हैं कि उन्हें प्राप्त करना कितना जरुरी है| आयोजन करें – दुसरे शब्दों में कहें तो, आयव्ययपत्र (बजट) बनाए| एक बार आपको एक महीनेमें क्या खर्च होता है उसका अंदाजा हो जाए तो अपने खर्चों को वर्गीकृत करने की कोशिश करें और बजट बनाएँ ताकि आप हर वर्ग को अलग विभागों में बाँट कर आयव्यय पत्र बना सकते हैं| आकस्मिक खर्च की जगह रखना न भूलें जिसका समावेश माहवार व्ययपत्र में नहीं हुआ है|

३. कटौती करें:

अब जब आपके खर्च वर्गीकृत हो गए हैं और व्ययपत्र के मुताबिक रहेना तय हो गया है तो आगे का कदम पहेले दो की तरह ही सरल है| कटौती करें| मिसाल के तौर पर, आप अस्वास्थ्यकर चीज़ों को छोड़ कर किराने पर खर्च होने वाली राशी में अच्छी कटौती कर सकते हैं – इस तरह से आप एक ‘खर्चे’ में दो अच्छी आदते डाल सकते हो| बचत करने का दूसरा स्पष्ट तरीका यह है कि आप तय कर लें कि आपको कितना पैसा या अपनी आय के कितने प्रतिशत बचाना है| आपकी आय के अनुसार यह १०%, २०% या ५% जितना कम भी हो सकता है|

४. अपना लक्ष्य चुने:

‘यह तो करना ही चाहिए’ इस सोच के साथ बचत करनी ज़रूरी नहीं है| जब आप अपनी बचत को एक लक्ष्य देते हैं तो यह आपके लिए एक बड़ी प्रेरणा का स्रोत बन सकती है| वजह कुछ भी हो सकती है – आप जो गाड़ी खरीदना चाहते हो, नया स्मार्ट फोन लेना चाहते हो, कोई छुट्टी, आपातकालीन खर्चे, सुखद निवृत्ति या नए घर के लिए की तत्काल अदायगी| जितना बड़ा लक्ष्य उतनी बडी बचत – फिर भी धीरज ही गुरुचाबी है|

५. प्राथमिकता दें:

ज्यादातर बार हमारी काफी सारी इच्छाएँ होती है और हम उन्हें जल्दी से जल्दी पूरी करना चाहते हैं, अर्थात्, बचत करने के लिए हमारे पास कई सारे कारण होते हैं| पर आप चिंता ना करें यह अच्छी बात है – इस का मतलब है की आप जैसी जिन्दगी चाहते हैं उसे पाने के लिए बहुत ज्यादा प्रेरित है| लेकिन इन इच्छाओं की पूर्ति के लिए आपको वास्तविक बनना पड़ेगा| अतः प्राथमिकता दें| आपकी इच्छाओं को नजदीकी और दूर के लक्ष्य के अनुरूप प्राथमिकता दें, और ध्यान रखें कि आपके दूर के ध्येय पर किसी कीमत पर कोई असर ना पड़े| फिर भी आपको अपने नजदीकी ध्येयों को पाने के लिए भी आपको कुछ छूट लेनी पड़ेगी और थोड़ी कुरबनी भी देनी पड़ेगी|

६. निवेश करें:

आपके कटौती से जमा किए गए पैसों का सही जगह पर निवेश करें| विशेषज्ञों की मदद ले कर और सोच समझ कर खुद के लिए निवेश का सबसे बेहतरीन तरीका खोजें| निवेश के कई साधन मोजूद है, सावधि जमा योजना से ले कर म्यूच्यूअल फंड तक| आप कितना जोखिम लेना चाहते हो यह सोच कर उस तरह से तय करें| फिर भी, बिना देखे दूसरों की बातों में न आते हुए सही मदद ले कर निवेश करें| आप चाहे जहाँ या चाहे जितना निवेश करें, लेकिन आप नेट बैंकिंग का उपयोग जरुर करें, जिससे आप भूल जाएँ तो भी आपके पैसे अपने आप ही (आपके खर्च के समान) वहाँ तब्दील हो जाएँगे| यह आपको अपनी बचत का उपयोग, या यूँ कहें कि दुरूपयोग, करने के लोभ से भी निश्चित रूप से बचा सकता है|

आपके लिए थोड़ी सी खुशखबर है! अगर आप अपने पैसों को बचाने का सबसे बेहतरीन, पूर्ण-विक्सित तथा प्रमाणित तरीका सिखना चाहते हैं जिसके चलते आप अंततः आर्थिक स्वतंत्र हो जाएँगे, तो मैंने एक ‘मनी एंड सक्सेस का ऑनलाइन कोर्स’ तैयार किया है जिसे आप अपने कुटुंब के अन्य सदस्यों के साथ मिल कर सीख सकते हैं| यह कोर्स आपको कुछ सरल और प्रमुख नियमों से, जिनके उपयोग से लोग करोडो कमाये है, आश्चर्यचकित कर देगा|

निश्चय करें कि २०१८ को आर्थिक पछतावा करने का वर्ष नहीं बनाओगे| भगवान सफल करे!

Share