TIPS TO MAKE THE BEST USE OF 24 HOURS

Written by Sneh Desai on October 13, 2018

TIPS TO MAKE THE BEST USE OF 24 HOURS




No matter what, 24 hours always seems like less time than we require in order to live the best version of our lives! The only possible hack for the same is to utilize these 24 hours effectively. Think about it, whenever you want to learn something new or make time for something special, how often have you given the excuse of not actually having enough time at hand?

Let’s do the math! If you take out 8 hours from these 24 hours for sound sleeping, you shall still have 16 hours left! Now take out 8 hours for your job or work schedule. You still have 8 hours remaining. Taking apart maximum 2 hours of traveling time also, you still have 6 hours! And what do you do in these 6 hours? Watch T.V., be on social media, talk over the phone endlessly, rest because you feel ‘too tired’, give excuses for not working out regularly, regret not being able to give quality time to your loved ones, and so on & so forth. Then what exactly do you need to do to prevent such misuse of these extra hours?

Learn to prioritize. Time management on a daily basis is nothing but giving priority to certain core activities during the day and then managing other small or peripheral activities as and when they come. So make a list of certain things that should not be sacrificed upon on a daily basis for you; like going to the gym, sound sleep, work, friends and family, a certain hobby, a certain passion project aside from your work etc. If you’d like to learn how to do that better, get your copy of ‘Time Management’ DVD here. You’d get numerous practical tips on the same.

The next step is to simply allot! Allot the major chunk of the time you have to these activities. Now be smart about it and not very strict or stern. You need to allot time such that it is dynamic to changing circumstances. For example, your mornings are an early visit to your Yoga class but in case you have an early meeting at work or if one of your relatives is coming to see you & you have to visit them at the airport at an early hour, don’t regret at missing your morning routine. Allot but be ready to adjust and not regret later.

Also, be ready to organize. Effectiveness is directly proportional to organization. This means that the more organized you shall be, the better your utilization of time. There are many planners and organizers available, so plan your day ahead of time. Make sure you organize your time a day before so that you are in full control of how your day & time is utilized. In fact, these days you even get meal planners. So in case you are trying to eat healthier and on time, you have meal planners which let you plan your meals beforehand!

Support your organization techniques through reminders. No matter how sinful the smartphones are, you have to give them the credit of allowing you to carry out your tasks on time because they are so useful in keeping track of time (& money!). So keep reminders on your smartphones because all of us tend to check them ever so often. For example, if you are planning to drink more water every day, keep hourly reminders on your phones to help you keep this habit intact. Similarly, if you don’t want to spend more time than required on a particular activity, let your phone remind you how much time you have left in that activity such that you stop doing it after a point.

In my ‘Change Your Life’ Workshop, I teach my participants a simple and one of the most effective techniques of ‘Time Management Log Chart’ where they realize how they were wasting 2-3 hours on an average daily.

These are some of the easiest tips that may help you overcome your laziness and manage the 24 hours that you have. And don’t forget that everybody’s sleeping hours and the time they require for some basic activities varies from person to person. So don’t follow my math blindly. Look at your own schedule and convenience to make up your mind and eventually your time!



24 घंटे का सबसे अच्छा उपयोग करने की युक्तियाँ


बढ़िया जीवन जीने के लिए हमेशा ऐसा लगता है की २४ घंटो का समय भी कम ही है! इसका एकमात्र संभावित उत्तर इन 24 घंटों को प्रभावी ढंग से उपयोग करना है। सोचिये, जब भी आप कुछ नया सीखना चाहते हैं या किसी विशेष चीज़ के लिए समय निकालना चाहते हैं, तो आपने कितनी बार पर्याप्त समय नहीं होने का बहाना दिया है?

चलिए गणित करते हैं! यदि आप इन 24 घंटों में से अच्छी नींद के लिए 8 घंटे निकालते हैं, तो अभी भी आपके पास 16 घंटे बचे रहेंगे! अब अपने काम या वर्क स्केडुल के लिए 8 घंटे निकालें। आपके पास अभी भी 8 घंटे शेष हैं। अधिकतम 2 घंटे की यात्रा के लिए समय जोड़ ले, आपके पास अभी भी 6 घंटे हैं! और आप इन 6 घंटों में क्या करते हैं? टीवी देखते हैं, सोशल मीडिया पर रहते हैं, फोन पर अंतहीन बात करते हैं, आराम करते हैं क्योंकि आप ‘बहुत थके हुए’ महसूस करते हैं, नियमित रूप से व्यायाम नहीं करने के लिए बहाने देते हैं, अफसोस करते है कि प्रियजनों को ठीक से समय नहीं दे पाते है इत्यादि। इन अतिरिक्त घंटों के दुरुपयोग को रोकने के लिए आपको वास्तव में क्या करने की ज़रूरत है?

प्राथमिकता देना सीखिए। हर रोज समय प्रबंधन करना कुछ भी नहीं बल्कि दिन के दौरान कुछ महत्वपूर्ण कामों को प्राथमिकता देना है और फिर आने वाले अन्य छोटे-मोटे कामों का प्रबंधन करना हैं। कुछ चीजों की एक सूची बनाएं जिन्हें आपने हर दिन करना ही चाहिए; जिम, अच्छी नींद, काम, दोस्त और परिवार, कोई एक शौक, आपके काम से हटकर कोई एक निश्चित उत्साहित करने वाला प्रोजेक्ट आदि। यदि आप सीखना चाहते हैं कि इसे बेहतर तरीके से कैसे करें, तो आपको ‘Time Management’ (टाइम मैनेजमेंट) की DVD की प्रति यहाँ मिल जाएगी। आपको इसके बारे में कई व्यावहारिक सुझाव मिलेंगे।

अगला कदम बस समय बांटना है! आपके समय का बड़ा हिस्सा इन कामों के लिए दे। अब इसके बारे में स्मार्ट बनें और बहुत सख्त या कठोर नही। आपको समय का बटवारा ऐसा करना चाहिए जिससे वह बदलती परिस्थितियों में भी काम करे। उदाहरण के लिए, आपकी सुबह आपके योग क्लास से शुरुआत होती है, लेकिन यदि किसी दिन काम पर आपकी मीटिंग जल्दी है या यदि आपके रिश्तेदारों में से एक आपको देखने के लिए आ रहे है और आपको उन्हें लेने सुबह-सुबह हवाई अड्डे पर जाना है, तो अपनी सुबह की दिनचर्या खोने पर दुःख न करें। समय का ठीक से बटवारा तो करें लेकिन उसे एडजस्ट करने के लिए भी तैयार रहें और बाद में उस पर पछतावा न करें।

इसके अलावा, प्रबंधन के लिए तैयार रहें। प्रभावशीलता सीधे प्रबंधन से जुड़ा हुआ है। इसका मतलब यह है कि आप जितने अधिक योजनाबद्ध होंगे, उतना ही बेहतर समय का उपयोग होगा। मदद के लिए कई योजनाकार और आयोजक उपलब्ध हैं । समय से पहले अपने दिन की योजना बनाएं। आप एक दिन पहले ही अपने समय का प्लानिंग करें ताकि आपका दिन और समय किस प्रकार उपयोग किया जाता है इस बारे में आप पूर्ण नियंत्रण में रह सकें। वास्तव में, इन दिनों आपको भोजन योजनाकार (मील प्लानर) भी मिल जायेंगे। यदि आप स्वस्थ और समय पर खाने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपके पास भोजन योजनाकार हैं जो आपको पहले से ही अपने भोजन की योजना बनाने देते हैं!

जो काम आपने करने है उसकी याद दिलवाने के तरीकों से आप ठीक से अपना काम करते रहें। स्मार्टफ़ोन कितना भी बुरा क्यों न हो, वे समय (और धन!) का ट्रैक रखने में बहुत उपयोगी हैं। आपको उन्हें समय पर अपने कार्यों को करने में मदद का श्रेय देना होगा। अपने स्मार्टफ़ोन पर रिमाइंडर रखें क्योंकि हम सभी उन्हें अक्सर जांचते रहते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप हर दिन अधिक पानी पीना चाहते हैं, तो इस आदत को बरकरार रखने में आपकी सहायता के लिए अपने फोन पर हर घंटा रिमाइंडर रखें। इसी प्रकार, यदि आप किसी विशेष गतिविधि पर आवश्यक समय से अधिक समय नहीं बिताना चाहते हैं, तो फोन को याद दिलाने दे कि आपने उस गतिविधि में कितना समय दिया है, ताकि कुछ समय के बाद आप इसे करना बंद कर दें।

मेरे ‘Change Your Life’ (चेंज योर लाइफ) वर्कशॉप में, मैं सहभागियों को ‘टाइम मैनेजमेंट लॉग चार्ट’ की एक सरल और सबसे प्रभावी तकनीकों में से एक सिखाता हूं, जहां उन्हें पता चलता है कि वे औसत दिन में 2-3 घंटे कैसे बर्बाद कर रहे थे।

ये कुछ सबसे आसान सुझाव हैं जो आपके आलस्य को दूर करने और आपके 24 घंटे का प्रबंधन करने में मदद कर सकते हैं। और यह न भूलें कि नींद के घंटे और कुछ बुनियादी गतिविधियों के लिए आवश्यक समय हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग होता है। इसलिए मेरे गणित का अंधाधुंध पालन न करें। अपना समय कैसे बिताये, यह तय करने के लिए अपने स्वयं के कार्यक्रम और सुविधा को देखिये!

Share