3 Steps Of Abundance Which The Rich Won’t Share

3 Steps of Abundance

Becoming Wealthy is easy but maintaining your wealthy is hard. If you train your body in gym for 6 to 12 months you will see incredible results, but as you stop going to gym, slowly you will start losing those beautiful six-pack abs. It shows the importance of consistency. It won’t make any change if you daily practice different things but that one thing which you practice daily will make a drastic change in your life. Once Bruce Lee said — ‎” I fear not the man who has practiced 10,000 kicks once, but I fear the man who has practiced one kick 10,000 times.” Which shows that perfection can be achieved with persistency and constant efforts. For that you have to develop a MINDSET. A mindset which will help you to break your false beliefs, your bad habits, laziness and will make you more active, accurate, more focused towards your goals.

To attract something we have to make that thing as a center of focus. In case if you want good health you have to become health centric. If you want to become rich you have to keep money as my main focus. I will teach you 3 artistic rules which will set you to a level from where you will be able to generate tremendous amount of wealth, which will be life longing. We are already aware of people who are making millions. But something we don’t know is how there are able to make it. So these 3 arts will help you to understand the thought process of those people more clearly who have a rich mindset.

     1.       THE ART OF ASKING:

The common mistake that we make while starting the process is asking in a wrong way or not asking at all. We don’t know the art of asking things. This nature is willing to provide everything that it has but only to those who knows the art of asking. People with rich mindset are conscious about the thoughts that they perceive. They try to surround themselves with the elements which constantly indicates a signal which works a reminder to them to keep asking in right manner. And on the other hand, you don’t ask for the things that you want instead of that you regret about the things that you don’t have. You keep cursing and criticizing this nature for not giving you the fruit that you want. You have to develop a mindset where you ask for things that you want. Whenever you bump with a thought which shows the sign of negativity get out of that state of mind, and start thinking about the things that you want, things you want to achieve.

      2.       THE ART OF RECEIVING:

 Once you ask correctly then next thing that will happen is receiving the wealth that you asked for. While receiving the wealth we don’t know how to welcome it to our vault. We fizzle off, and we get zoned out from our conscious state of mind. We lose our calmness, and we go crazy by just thinking about the wealth. This is where you go wrong. People with rich mindset stay calm, and still. They don’t give quick reactions to the changes that come to their life. They observe the wealth that they have received then they think about the money that they have received, and then he will react to the wealth they have obtained. This is how you should welcome the wealth as it indicates a gratefulness in the behavior of receiver. And nature likes the person who expresses thankfulness to it.

     3.       THE ART OF RETAINING:

 After receiving that wealth, most of the people end up losing that wealth too soon. As they don’t know how to manage it. The art of retaining the wealth is the most important and difficult
art among these three arts. If you buy a car it’s a easy process. Even selling that car is also easy. But maintaining the car for the convenient ride is more difficult than both. Similarly, asking for wealth and receiving that wealth is easier as compared to maintaining that wealth. And to do that we have to plan our finances. We should know how to generate money from the money that we hold. The quote — “Money Attracts Money” is true only for those who knows the importance of financial planning. Those who spend their hard-earned money lavishly without giving a second thought, they are not going to stay wealthy for too long. They end up spending all the money and then back to the old situation.

Now it is in our hand how to ask for a rich mindset, how to practice that rich mindset and how to retain a rich mindset. To develop this mindset we need a mentor, a teacher who can guide us to achieve financial freedom by developing rich mindset. A true guru will show the right path towards you goal. And for your betterment I have come up with a program in which I will share few tried and tested scientific techniques which will work as a cup of nectar for you. These are simple techniques but if implemented correctly, it can make wonders. I will suggest you to check out my webinar on DEVELOP RICH MINDSET” in which i am sharing 9 secrets to become rich.

विकास के लिए 3 कलाए 

जीवन में धनिक बनना आसान है लेकिन अपने धन को बनाए रखना कठिन है। अगर आप जिम में ६ से १२ महीने तक कसरत करेंगे तो आपको अविश्वसनीय परिणाम देखने को मिलेंगे, लेकिन जैसे ही आप जिम जाना बंध कर देंगे , धीरे-धीरे आप उन खूबसूरत सिक्स-पैक एब्स को खोना शुरू कर देंगे। यह स्थिरता के महत्व को दर्शाता है। यदि आप रोजाना अलग-अलग चीजों का अभ्यास करते हैं, तो उससे कोई ज़्यादा बदलाव नहीं होगा, लेकिन एक चीज जो आप रोजाना अभ्यास करते हैं, वह आपके जीवन में भारी बदलाव लाएगा। एक बार ब्रूस ली ने कहा – “मैं उस आदमी से नहीं डरता जिसने एक बार 10,000 किक का अभ्यास किया हो, लेकिन मुझे उस आदमी से डर है जिसने 10,000 बार किक का अभ्यास किया है।” जो दर्शाता है कि दृढ़ता और निरंतर प्रयासों से पूर्णता प्राप्त की जा सकती है। उससे आप एक MINDSET विकसित करने में सफल होंगे। एक मानसिकता जो आपको अपने झूठे विश्वासों, आपकी बुरी आदतों, और आलस्य को तोड़ने में मदद करेगी और आपको अपने लक्ष्य के प्रति अधिक सक्रिय, सटीक, अधिक ध्यान केंद्रित करने में उपयोगी होगी।

किसी चीज़ को आकर्षित करने के लिए हमें उस चीज़ को फोकस का केंद्र बनाना होगा। यदि आप अच्छा स्वास्थ्य चाहते हैं तो आपको स्वास्थ्य केंद्रित बनना होगा। यदि आप अमीर बनना चाहते हैं तो आपको अपने मुख्य फोकस के रूप में पैसा रखना होगा। मैं आपको 3 कलात्मक नियम सिखाऊंगा, जो आपको एक ऐसे स्तर पर स्थापित करेंगे, जहाँ से आप जबरदस्त धन पैदा कर सकेंगे, और जो हमेशा के लिए रहेगा। हम उन लोगों के बारे में पहले से ही जानते हैं जो लाखों कमा रहे हैं। लेकिन हम जो चीज़ नहीं जानते कोह है की उन्होंने वह लाखो रुपए कैसे बनाए। तो ये 3 कलाएँ आपको उन लोगों की विचारश्रेणी को अधिक स्पष्ट रूप से समझने में मदद करेंगी जोकि एक सफल इंसान के ज़ेहन में पहले से उपस्थित है।

 

१. मांगने की कला: 

प्रक्रिया शुरू करते समय हम जो सामान्य गलती करते हैं, वह  है की गलत तरीके से मांगना, या फिर  बिल्कुल मांगना ही नहीं। सामान्य तौर पर लोग मांगने की कला में निपूर्ण नहीं होते। यह प्रकृति वह सब कुछ प्रदान करने के लिए तैयार है जो उसके पास है, लेकिन केवल उन लोगों के लिए है जो मांगने की कला जानते हैं। समृद्ध मानसिकता वाले लोग उन विचारों के बारे में हमेशा जागरूक होते हैं ताकि वो उन् विचारो को और अच्छे तरीके से समज सके। वे खुद को उन तत्वों से घेरने की कोशिश करते हैं जो लगातार एक संकेत को इंगित करते हैं जो लगातार उन्हें याद दिलाता है कि वे कुदरत से क्या चाहते हैं। और दूसरी ओर, आप उन चीजों के लिए नहीं पूछते हैं जो आप चाहते हैं इसके बजाय आप उन चीजों के बारे में पछताते हैं जो आपके पास नहीं हैं। आप इस स्वभाव को कोसते रहते हैं और आलोचना करते रहते हैं कि आपको जो फल चाहिए वह नहीं दिया। आपको एक मानसिकता विकसित करनी होगी जहां आप उन चीजों के लिए कहें जो आप चाहते हैं। जब कभी भी आप किसी विचार से टकराते हैं जो नकारात्मकता के संकेत को दर्शाता है, तो उसी समय उस मन की स्थिति से बाहर निकलने का प्रयास कीजिये, और उन चीजों के बारे में सोचना शुरू कर दीजिये जो आप चाहते है और जिन चीजों को आप प्राप्त करना चाहते हैं।

 

२. प्राप्त करने की कला: 

एक बार जैसे ही आप मांगने की कला में निपूर्ण हो जाते है, अगला कार्य है उस धन को प्राप्त कैसे किया जाये। जब हम धन की प्राप्ति करते है उस समय हमें यह भास नहीं रहता की उस समृद्धि का स्वागत हमारी तिजोरी में कैसे किया जाये। हम अपने मन की सचेत अवस्था से बाहर निकल जाते है और पागलपन की वजह से बहक जाते है। हम अपनी शांति खो देते हैं, और हम केवल धन के बारे में सोचकर ही जूनून की अनुभूति करना शुरू कर देते है. यही पर हर इंसान गलत पटरी पर निकल जता है। अमीर मानसिकता वाले लोग शांत रहते हैं। वे अपने जीवन में आने वाले परिवर्तनों पर त्वरित प्रतिक्रिया नहीं देते हैं। वे प्राप्त हुवे धन का सबसे पहले निरिक्षण करते है। और फिर वह अपने द्वारा प्राप्त किये हुए धन के बारे में प्रतिक्रिया देते है। आपको भी इसी तरह धन का स्वागत करना चाहिए जोकि प्रकृति के लिए आपका कृतज्ञ भाव दर्शाता है। और प्रकृति उस व्यक्ति को पसंद करती है जो उसके प्रति आभार व्यक्त करता है। 

 

३. बनाए रखने की कला:  

उस धन को प्राप्त करने के बाद, अधिकांश लोग उस धन को जल्द ही खो देते हैं। यहाँ इस लिए क्योकि वे नहीं जानते की उस धन को कैसे संभाला जाये। धन को बनाए रखने की कला इन तीन कलाओं में सबसे महत्वपूर्ण और कठिन कला है। यदि आप एक कार खरीदते हैं तो यह एक आसान प्रक्रिया है। यहां तक कि उस कार को बेचना भी आसान है। लेकिन सुविधाजनक सवारी के लिए उस कार को मैनटेन रखना दोनों की तुलना में अधिक कठिन है। इसी तरह धन मांगना और उस धन को प्राप्त करना आसान है मगर उस  को बनाए रखना अधिक कठिन है। हमें पता होना  चाहिए की हमारे पास जो धन है उसी धन की मदद से और ज़्यादा धन कैसे बनाया जाये। “पैसा पैसे को खींचता है” – यह  सूत्र केवल उन् लोगो के लिए है जिन्हे वित्तीय योजना के महत्व के बारे में ज्ञान है।  जो लोग अपनी मेहनत से कमाए गए धन को बिना सोचे समझे खर्च कर देते हैं, वे अधिक समय तक धनी नहीं रह पाते। वे अपना सारा पैसा फ़िज़ूल खर्ची में बर्बाद कर देते है और फिर अपनी पुरानी परिस्थि में आ जाते है।

अब यह आपके हाथो में है की आपको समृद्ध मानसिकता कैसे मांगनी है कैसे उसका अभ्यास करना है और कैसे उसको बनाए रखना है। इस मानसिकता को विकसित करने के लिए हमें एक संरक्षक की आवश्यकता है, एक शिक्षक जो हमें समृद्ध मानसिकता विकसित करके वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए मार्गदर्शन दे सके। एक सच्चा गुरु आपको लक्ष्य की ओर सही रास्ता दिखाएगा। और आपकी बेहतरी के लिए मैं एक कार्यक्रम लेकर आया हूं, जिसमें मैं कुछ आजमाई हुई और परखी हुई वैज्ञानिक तकनीकों से आपको रूबरू कराऊंगा जो आपके लिए अमृत के प्याले के रूप में काम करेंगी। ये सरल तकनीक हैं लेकिन अगर इसे सही तरीके से लागू किया जाए तो यह चमत्कार कर सकती है। मैं आपको मेरे द्वारा तैयार किया हुआ “DEVELOP RICH MINDSET” वेबिनार को करने का सुझाव दूंगा जिसमे मै 9 ऐसे रहश्यो को शेयर कर रहा हूँ जो आपको अमीर बनने मे मदद करेगा

Recommended Posts